पश्चिम बंगाल : व्यस्त होने के कारण राज्यपाल के साथ सर्वदलीय बैठक में शामिल नहीं होंगी CM ममता

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी राज्यपाल जगदीप धनखड़ द्वारा दो विधेयकों पर चर्चा के लिए शुक्रवार को बुलायी गयी सर्वदलीय बैठक में ‘‘व्यस्तताओं’’ के कारण शामिल नहीं होंगी। राज भवन ने बृहस्पतिवार को एक बयान में कहा कि मुख्यमंत्री कार्यालय ने राज्यपाल के सचिवालय को सूचित किया कि शुक्रवार को पहले से तय कार्यक्रमों के कारण बनर्जी के लिए बैठक में शामिल होना संभव नहीं होगा। 

राज्यपाल बनने के बाद से धनखड़ और बनर्जी एवं उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस के बीच कई मामलों पर टकराव चल रहा है। राज्यपाल ने विधानसभा में पारित उन दो विधेयकों पर चर्चा के लिए बैठक बुलाई थी, जिन पर उनकी (राज्यपाल की) मंजूरी का इंतजार है। 

CAA के विरोध प्रदर्शन में जामा मस्जिद पहुंचे चंद्रशेखर, समर्थकों के साथ मिलकर पढ़ी संविधान प्रस्तावना

बयान में कहा गया है कि ‘‘बार बार प्रयासों के बावजूद’’ पश्चिम बंगाल(लिंचिंग से रोकथाम) विधेयक, 2019 और ‘अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति पश्चिम बंगाल राज्य आयोग विधेयक’ के लंबित होने के संबंध में ‘‘राज्य सरकार और राज्य विधानसभा से कोई जानकारी नहीं मिलने के कारण राज्यपाल ने यह बैठक बुलाई थी।’’ 

इसमें कहा गया है, ‘‘राज्यपाल ने मुख्यमंत्री को इस मामले को प्राथमिकता देने और इन मामलों पर चर्चा की खातिर बैठक के लिए जल्द से जल्द समय निकालने की अपील की है।’’ 

बयान में कहा गया है कि पश्चिम बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता अब्दुल मन्नान और वाम मोर्चा के विधायक दल के नेता सुजान चक्रवर्ती ने बैठक 21 जनवरी को किए जाने का अनुरोध किया है। इसमें कहा गया है कि बैठक तय समय पर उक्त तिथि को होगी। बयान में कहा गया है कि राजभवन को यह भी बताया गया है कि गोरखा जनमुक्ति मोर्चा के नेता रोहित शर्मा इस समय बीमार हैं। 
Tags : Badrinath,चारधाम यात्रा,बद्रीनाथ,हिमपात,Snow,भीषण ठंड,Kedarnath Dham,केदारनाथ धाम,Chardham Yatra,Gruzing cold ,meeting,West Bengal,CM Mamta,governor,Mamata Banerjee,Jagdeep Dhankar