+

कौन हिंदू बिना मूंछ दाढ़ी रखता हैं, रामायण के इस्लामीकरण पर 'आदिपुरूष' डायरेक्टर को लीगल नोटिस

आदिपुरूष फिल्म को लेकर बवाल मचा हुआ हैं, श्रीराम मंदिर आयोध्या के महंत ने भी फिल्म को लेकर सवाल खड़े किए हैं। इस फिल्म का ट्रेलर हाल ही में रिलीज किया गया था।
कौन हिंदू बिना मूंछ दाढ़ी रखता हैं, रामायण के इस्लामीकरण पर 'आदिपुरूष' डायरेक्टर को लीगल नोटिस
आदिपुरूष फिल्म को लेकर बवाल मचा हुआ हैं, श्रीराम मंदिर आयोध्या के महंत ने भी फिल्म को लेकर सवाल खड़े किए हैं। इस फिल्म का ट्रेलर हाल ही में रिलीज किया गया था। जिसके बाद से ही फिल्म को लेकर बवाल खड़ा हो गया हैं। आज यानि गुरूवार को फिल्म के डायरेक्टर ओम राउत को सर्व ब्राह्मण महासभा लीगल नोटिस भेजा हैं। फिल्म को लेकर हिंदु संगठन आग बबूला हो गये हैं, हिंदू संगठनों सहित कई राजनीति दल के लोगों ने फिल्म को बैन कर बनाने वालों की गिरफ्तारी की मांग की हैं। हिंदु संगठनों का कहना हैं कि इस फिल्म में हनुमान जी को बिना मूंछ के दिखाया गया हैं।  जिस कारण हिंदु आस्था रखने वाले व्यक्तियों की भावनाएं आहत हुई हैं।  
चमड़े के कपड़ो में भगवान 
फिल्म के ट्रेलर को ही काफी लोगों ने नापंसद किया हैं। फिल्म में करने वाले लोग डायरेक्टर से काफी नाराज बताए जा रहे हैं, फिल्म में भारतीय दक्षिण में अपनी कलाकृति से खूब पंसद किए जाने वाले अभिनेता प्रभास ने भगवान श्रीराम का रोल निभाया हैं। तो वही विवादों में रहने वाले अभिनेता सैफ अली खान ने रावण के रोल में दिखाया गया हैं। रावण का रोल काफी विवादित हैं, जिसे अमर्यादित रूप में दर्शाया गया हैं। सोशल मीडिया पर लोगों ने फिल्म के बारे में काफी कुछ कह रहे हैं। हिंदू देवता लेदर के कपड़े पहने हैं और बुरी तरह से बोल रहे हैं। फिल्म में नीचे दर्जे की भाषा का इस्तेमाल हुआ है जिससे धार्मिक भावनाएं आहत हो रही हैं। 
फिल्म में मुगल या खिलजी की तरह दर्शाया गया हैं हनुमान जी का स्वरूप 
आदिपुरूष फिल्म में हिंदु देवी देवताओं को इस्लामीकरण की तरह से दर्शाया गया हैं , नोटिस में लिखा हैं कि कौन हिंदू बिना मूंछ के दाढी के रखता हैं , रावण को देखने में ऐसा लग रहा हैं जैसे  सैफ अली खान भी तैमूर या खिलजी जैसे हों। इस फिल्म में विशेष वर्ग को नीचा दिखाने का प्रयास किया गया हैं। इस फिल्म के कारण हिंदू आस्थावान लोगों की आहत हो रही हैं। सर्व ब्राहम्ण सभा ने नोटिस में  आग्रह किया हैं कि लोगों की भावनाओं से न खेलें। जो किया उसके लिए सात दिन के अंदर जनता के सामने माफी मांगें, सारे डायलॉग्स और इलस्ट्रेशंस डिलीट करें वर्ना लीगल ऐक्शन लिया जाएगा। 
आपको बता दे की आदिपुरूष फिल्म को लेकर बवाल बढ़ने की संभावना दिखाई पड़ रही हैं। क्योंकि फिल्म को दर्शाने वाले कलाकार जवाबदेही से बचते नजर आ रहे हैं। अगर फिल्म में से शर्तों के अनुरूप बदला नहीं गया हैं तो फिल्म को सड़क पर संघर्ष की नौबत आ सकती हैं। लोग रावण के रोल को देखकर गुस्साए हुए हैं, रावण को स्पाइस कटिंग के साथ दिखाया हैं , वह साथ ही फिल्म में शास्त्रों में रचित रामायण को नीचा दिखाने का प्रयास किया गया हैं  फिल्म में ऐसी भाषा का प्रयोग किया गया हैं जो शास्त्रों के लिहाज से अशोभनीय हैं। रावण को अमार्यदित व उत्तेजक दिखाया गया हैं ,परंतु रावण तो विधि के ज्ञान का ज्ञाता था। जो रामायण शास्त्र के अनुसार काफी गलत हैं।   
facebook twitter instagram