खून की नदियां’जैसे बयान से किसे चुनौती दे रहा विपक्ष : अमित शाह

नई दिल्ली : भारतीय जनता पार्टी ने विपक्ष के लोकसभा चुनाव परिणाम अनुकूल नहीं आने पर ‘हथियार उठाने’ और ‘खून की नदिया बहने’ जैसे बयान देने पर आज सवाल किया कि ऐसे हिंसात्मक और अलोकतांत्रिक बयान से किसे चुनौती दी जा रही है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने बुधबार को ट्वीट किया कि इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) का विरोध देश की जनता के जनादेश का अनादर है।

हार से बौखलाई 22 विपक्षी पार्टियां देश की लोकतांत्रिक प्रक्रिया पर सवालिया निशान उठा कर विश्व में देश और लोकतंत्र की छवि धूमिल कर रही है।

वीवीपैट पर्चियों की गिनती की मांग किस आधार पर खारिज की गई : कांग्रेस

उन्होंने कहा कि ईवीएम पर विपक्ष द्वारा उठाए जा रहे प्रश्न सिर्फ भ्रान्ति फैलाने का प्रयास है, जिससे प्रभावित हुए बिना हम सभी को लोकतांत्रिक संस्थानों को और मजबूत करने का प्रयास करना चाहिए। ईवीएम में गड़बड़ी के विषय पर ‘प्रोएक्टिव’ कदम उठाते हुए चुनाव आयोग ने सार्वजनिक रूप से ऐसा कर दिखाने का आमंत्रण दिया था लेकिन उस चुनौती को किसी भी विपक्षी दल ने स्वीकार नहीं किया था।

Download our app
×