+

राजस्थान में सियासी हलचल के बीच पूर्व प्रदेशाध्यक्ष बोले- कांग्रेस को सत्ता में लाने वाले कार्यकर्ताओं को सरकार में मिले जगह

राजस्थान के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष नारायाण सिंह ने कहा कि पार्टी को सत्ता में लाने वाले कार्यकर्ताओं को राज्य स्तर और जिला स्तर पर सरकार में जगह दी जानी चाहिए।
राजस्थान में सियासी हलचल के बीच पूर्व प्रदेशाध्यक्ष बोले- कांग्रेस को सत्ता में लाने वाले कार्यकर्ताओं को सरकार में मिले जगह
राजस्थान की राजनीति में इन दिनों सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है, राज्य के नेता अशोक गहलोत और सचिन पायलट के खेमों में बंट गए है। ऐसे में प्रदेश के पूर्व अध्यक्ष नारायण सिंह का सोमवार को बड़ा बयान सामने आया है। नारायाण सिंह ने कहा कि पार्टी को सत्ता में लाने वाले कार्यकर्ताओं को राज्य स्तर और जिला स्तर पर सरकार में जगह दी जानी चाहिए।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं ने कडी मेहनत की और पसीना बहाया था, जिससे कांग्रेस की सरकार बनी। सिंह ने एक बयान में कहा, ‘‘... यह आवश्यक है कि कांग्रेसियों और कार्यकर्ताओं को प्रोत्साहित करने के लिये राज्य और जिला स्तर पर जगह दी जानी चाहिए। यह कांग्रेस के नेतृत्व की नैतिक जिम्मेदारी है।’’
उन्होंने कहा कि पार्टी आलाकमान को उन पुराने और निष्ठावान नेताओं की बात सुननी चाहिए, जिन्होंने विपरीत परिस्थितियों में कडी मेहनत की। पूर्व विधायक सिंह ने कहा कि राज्य सरकार को किसानों की यथासंभव मदद करनी चाहिए क्योंकि केन्द्र के किसान विरोधी रवैये के कारण लोग प्रभावित हुए हैं।
पूर्व प्रदेशाध्यक्ष का यह बयान अशोक गहलोत और सचिन पायलट खेमे में चल रही खींचतान के बीच आया है। उल्लेखनीय है कि बसपा से कांग्रेस में आये छह विधायको और 10 निर्दलीय विधायकों के साथ ही सचिन पायलट खेमे के विधायक मंत्रिमंडल विस्तार और राजनैतिक नियुक्तियों की मांग कर रहे है।

facebook twitter instagram