+

खतरे के निशान के बेहद करीब पहुंचा यमुना का जलस्तर

दिल्ली में यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान के करीब आते ही निचले इलाके में रहने वाले लोगों को बाढ़ से बचने का प्रयास कर रहे हैं, वहीं यमुना नदी का जलस्तर पुराने रेलवे पुल पर अभी 205.97 मीटर रहा बना हुआ है।
खतरे के निशान के बेहद करीब पहुंचा यमुना का जलस्तर
दिल्ली में यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान के करीब आते ही निचले इलाके में रहने वाले लोगों को बाढ़ से बचने का प्रयास कर रहे हैं, वहीं यमुना नदी का जलस्तर पुराने रेलवे पुल पर अभी 205.97 मीटर रहा बना हुआ है। हालंकी प्रशासन इस समस्या से निपटने के किए सभी जरूरी कदम उठा रहा है। राजधानी में शनिवार सुबह यमुना का जलस्तर घटाता नजर आया लेकिन खतरे के निशान से ऊपर पानी बना हुआ है।
दिल्ली बाढ़ नियंत्रण कक्ष के मुताबिक, यमुना नदी का जलस्तर पुराने रेलवे पुल पर शनिवार सुबह 11 बजे तक 205.97 मीटर रहा, जबकि सुबह 7 बजे तक 205.99 मीटर था। शाम तक इसी स्तर पर रह सकता है और शाम के बाद जलस्तर घटने की उम्मीद जताई जा रही है। वहीं यदि यमुना नदी का जलस्तर 206 मीटर को पार कर जाएगा तो लोगों को निचले इलाकों से निकालने के अभियान को तेज किया जाएगा। हालांकि दिल्ली में बाढ़ की चेतावनी तब घोषित की जाती है, जब यमुना नगर स्थित हथिनीकुंड बैराज से छोड़े जाने वाले पानी की मात्रा एक लाख क्यूसेक को पार कर जाती है। चेतावनी घोषित होने के बाद ही निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाय जाता है।
फिलहाल बाढ़ नियंत्रण विभाग द्वारा यमुना नदी की स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। इसके साथ ही प्रशासन और सिंचाई एवं बाढ़ नियंत्रण विभाग ने 34 नावों और सचल पंप को तैनात किया है। दरअसल, दिल्ली में बाढ़ का खतरा होने के बाद करीब 35 हजार से अधिक लोगों के चपेट में आने की आशंका रहती है।
facebook twitter instagram