+

यमुना का जलस्तर बढ़ने से फरीदाबाद-बल्लभगढ़ में बाढ़ का खतरा

यमुना का जलस्तर बढ़ने से फरीदाबाद-बल्लभगढ़ में बाढ़ का खतरा
यमुना का जल स्तर बढ़ने से फरीदाबाद और बल्लभगढ़ के कई इलाकों में बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है। सोमवार को बल्लभगढ़ के शाहपुरा खादर और गांव अरुआ में यमुना का पानी खेतों तक पहुंच गया। अधिकारियों ने बताया कि जिला प्रशासन ने शास्त्री पार्क यमुना खादर में ऊंचे स्थान पर तंबू लगा दिए हैं।

लोगों को खाना भी वितरित किया जा रहा है। प्रशासन ने सरपंचों और जिले के अधिकारियों को संभावित बाढ़ से निपटने के लिए जरूरी दिशा-निर्देश जारी किए हैं। अधिकारियों ने कहा कि बल्लभगढ़ में यमुना का जलस्तर बढऩे से प्रशासन ने खेतों पर रहने वाले किसानों को घर पर रहने को कहा है। 

उन्होंने कई गांवों की आबादी को सुरक्षित रखने के लिए अस्थायी शिविर बनाने की तैयारी कर ली है। सिंचाई विभाग के अनुसार, हथिनी कुंड बैराज से छोड़े गए पानी का असर बुधवार को दिखाई देगा। यमुना में रविवार की शाम यमुनानगर हथिनी कुंड बैराज से 8.24 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। सिंचाई विभाग का दावा है कि पिछले 20 वर्षों में यह अब तक सबसे ज्यादा पानी छोड़ा गया है। 
Tags : ,Yamuna,Ballabgarh,Faridabad
facebook twitter