येदियुरप्पा ने बागी विधायकों के इस्तीफे के पीछे भाजपा का हाथ होने के आरोपों को किया खारिज, कहा- भाजपा का कोई लेना-देना नहीं

बेंगलुरु : कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने 17 अयोग्य विधायकों के इस्तीफे के पीछे भाजपा का हाथ होने के आरोप से खुद को अलग करते हुए कहा कि उनकी पार्टी का इससे कोई लेना-देना नहीं है और वे जैसा चाहें वैसा कदम उठाने के लिये स्वतंत्र हैं। 

येदियुरप्पा ने विपक्षी दल कांग्रेस के नेता सिद्धरमैया के आरोपों पर यह प्रतिक्रिया दी जिन्होंने आरोप लगाया था कि बागी विधायकों के दलबदल और पूर्ववर्ती कांग्रेस-जद(एस) सरकार को अस्थिर करने के पीछे भाजपा का हाथ था। सिद्धरमैया ने येदियुरप्पा और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से इस्तीफा देने की मांग की थी। 

येदियुरप्पा ने बेंगलुरु में पत्रकारों से कहा, 17 अयोग्य विधायकों के इस्तीफे से हमारा कोई संबंध नहीं है। वे क्या करना चाहते हैं यह उन पर निर्भर करता है। गौरतलब है कि येदियुरप्पा की एक कथित ऑडियो सामने आई थी, जिसमें वह पांच दिसंबर को 15 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव में कांग्रेस-जद(एस) के बागी विधायकों को टिकट देने का विरोध करने वाले नेताओं के खिलाफ हुबली में हुई पार्टी की एक बैठक में नाराजगी प्रकट कर रहे थे। 

वह ऑडियो में यह कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि कांग्रेस-जद(एस) के अयोग्य विधायकों को गठबंधन सरकार के गठन के अंतिम दिनों के दौरान भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की निगरानी में मुंबई में रखा गया था। गौरतलब है कि कर्नाटक में भाजपा सरकार से पहले कांग्रेस जद-एस की गठबंधन सरकार थी, लेकिन मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी के विधानसभा में बहुमत साबित नहीं कर पाने के कारण वह सरकार 22 जुलाई को गिर गई थी। 

Tags : Badrinath,चारधाम यात्रा,बद्रीनाथ,हिमपात,Snow,भीषण ठंड,Kedarnath Dham,केदारनाथ धाम,Chardham Yatra,Gruzing cold ,BJP,Yeddyurappa,HD Kumaraswamy,resignation,rebel MLAs,Congress,government,Karnataka,Assembly