+

प्रतापगढ़ हादसा : मृतकों के परिजनों के लिए योगी सरकार ने दो-दो लाख रूपये मुआवजे का किया ऐलान

मुख्यमंत्री ने वरिष्ठ अधिकारियों को मौके पर पहुंचने और पीड़ितों को हर संभव सहायता प्रदान करने का निर्देश दिया है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने इस दुर्घटना में मारे गये लोगों के परिजनों को दो-दो लाख रूपये की आर्थिक सहायता दिये जाने के निर्देश दिये हैं।
प्रतापगढ़ हादसा : मृतकों  के परिजनों के लिए योगी सरकार ने दो-दो लाख रूपये मुआवजे का किया ऐलान
प्रतापगढ़ जिले के देशराज इनारा के पास बृहस्पतिवार देर रात भीषण सड़क हादसे में छह बच्चों समेत 14 लोगों की मौत हो गयी। इस घटना पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुर्घटना पर दुख व्यक्त करते हुए मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रूपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि यह हादसा बृहस्पतिवार देर रात उस समय हुआ जब लोग एक शादी में शामिल होकर लौट रहे थे।
पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने बताया कि जिला मुख्यालय से करीब सत्तर किलोमीटर दूर प्रयागराज-लखनऊ राजमार्ग पर थाना मानिकपुर अंतर्गत देशराज इनारा के निकट हुई सड़क दुर्घटना में तेज रफ़्तार बोलेरो गाड़ी अनियंत्रित होकर सड़क किनारे खड़े ट्रक से टकरा गयी। हादसे में बोलेरो में सवार छह बच्चों सहित चौदह लोगों की मौत हो गयी। पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय भेजा है।
पुलिस अधीक्षक आर्य ने बताया कि मृतकों में थाना कुंडा कोतवाली क्षेत्र के जिरगापुर गांव निवासी बबलू (22), दिनेश कुमार (40) व उसके बेटे पवन कुमार (10) और अमन कुमार (7), दयाराम (40), राम समुझ (42), गौरव (10), नान भैया (55), सचिन (12), हिमांशु (13), मिथलेश कुमार (17), अभिमन्यु (12), अंश (9) व बोलेरो चालक पारस नाथ (40) शामिल हैं।
दुर्घटना की सूचना पर पुलिस बल ने तत्काल घटनास्थल पर पहुंचकर राहत और बचाव अभियान शुरू कर दिया। उन्होंने कहा कि दुर्घटना इतनी भीषण थी कि बोलेरो गाड़ी बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गयी। हादसे में सभी की मौके पर ही मौत हो गयी। दुर्घटनाग्रस्त बोलेरो से शवों को निकालने में लगभग दो घण्टे का समय लगा। आर्य ने कहा कि पांच शवों को तो तुरंत निकाल लिया गया लेकिन बाकी को निकालने के लिये जेसीबी मशीन मंगाई गयी और ट्रक के नीचे फंसी बोलेरो को निकालने के बाद उसमें से बाकी शव निकाले गये।
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मृतकों के परिजनों को सूचित कर दिया गया है तथा बोलेरो और ट्रक मालिक को पुलिस ने पूछताछ के लिये बुलाया है। अवस्थी ने  को बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रतापगढ़ हादसे पर दु:ख जताया है। मुख्यमंत्री ने वरिष्ठ अधिकारियों को मौके पर पहुंचने और पीड़ितों को हर संभव सहायता प्रदान करने का निर्देश दिया है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने इस दुर्घटना में मारे गये लोगों के परिजनों को दो-दो लाख रूपये की आर्थिक सहायता दिये जाने के निर्देश दिये हैं।
पुलिस महानिरीक्षक (प्रयागराज रेंज) केपी सिंह ने बताया कि बोलेरो गाड़ी बहुत तेज गति से जा रही थी जिससे दुर्घटना होने पर वाहन का आधा हिस्सा ट्रक में जा घुसा। ये सभी लोग नवाबगंज थाना क्षेत्र से एक शादी समारोह से लौट रहे थे। सिंह ने बताया कि पुलिस, परिवहन विभाग और भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के साथ मिलकर ऐसे ब्लैक स्पॉट पर होर्डिंग आदि लगाएगी जहां दुर्घटना होने की अधिक आशंका रहती है।
facebook twitter instagram