+

कोविड-19 से प्रभावित 11 लाख मजदूरों को योगी सरकार ने दी एक-एक हजार रुपये की मदद

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को प्रदेश के बड़े अधिकारियों के साथ कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी को लेकर समीक्षा बैठक की। इस दौरान उन्होंने कहा कि सरकार ने उन लोगों को मदद देने का फैसला किया है जिनकी आजीविका कोरोना के कारण प्रभावित हुई है। उन्होंने कहा कि इसको देखते हुए पहले चरण में राज्य के 11 लाख से अधिक निर्माण श्रमिकों के खाते में 1,000 रुपये दिए गए हैं। 
सीएम योगी ने कहा कि "प्रदेश में लाॅकडाउन की कार्रवाई प्रारंभ होने के पहले ही वित्त मंत्री की अध्यक्षता में एक कमिटी बनाई थी। कमिटी की संस्तुति के अनुसार यूपी सरकार ने तय किया कि कोरोना महामारी से बचाव के लिए हुए लाॅकडाउन के कारण जिन लोगों की आजीविका बुरी तरह प्रभावित हुई है उन्हें कुछ सहयोग किया जा सके।" उन्होंने कहा कि "इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए मुझे प्रसन्नता है कि 11 लाख से अधिक निर्माण श्रमिकों को ₹1000 की धनराशि उनके खाते में उपलब्ध करवाई जा चुकी है। हम 20 लाख निर्माण श्रमिकों को यह धनराशि उपलब्ध करवा रहे हैं।"
योगी ने कहा कि "जितने भी ठेला, खोमचा, रेहड़ी, रिक्शा, ई-रिक्शा, पल्लेदार, या अन्य सेवाएं देने वाले लोग हैं, इनके लिए एक सर्वे कराकर हमने प्रशासन को आवश्यक धनराशि उपलब्ध करवाई है।" उन्होंने कहा कि स्वाभाविक रूप से इस समय लाॅकडाउन के कारण इन सभी का कार्य प्रभावित है। इन सभी को भरण-पोषण का भत्ता दिया जाना चाहिए। ऐसे 15 लाख से अधिक दैनिक काम करने वाले लोगों को भी हम धनराशि उपलब्ध करवा रहे हैं।"
योगी ने इस बैठक में कहा कि "प्रदेश में 88 लाख मनरेगा श्रमिकों के मानदेय को बढ़ाकर 202 रूपये किया गया है। लगभग 27 लाख 15 हजार से अधिक मनरेगा श्रमिकों, जिनकी बहुत दिनों से कुछ राशि बकाया थी, उन्हें एकमुश्त राशि दी गई।" उन्होंने कहा कि इसके साथ ही, वृद्धावस्था पेंशन, निराश्रित महिला पेंशन या फिर अन्य पेंशन योजनाओं से जुड़े 87 लाख परिवारों को समय से पहले उनकी पेंशन उपलब्ध कराई है।
योगी ने कहा  कि प्रदेश में 1 अप्रैल से खाद्यान्न का वितरण आरंभ हो गया है। पीएम मोदी ने भी 'प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज' की घोषणा की है। जिसमें प्रदेश के 2 करोड़ 34 लाख किसानों को ₹2,000 प्रतिमाह आगामी तीन महीनों तक दिए जाने की व्यवस्था है।" उन्होंने कहा कि जनधन योजना में जिन महिलाओं के खाते हैं, उन्हें 500 रूपये प्रतिमाह आगामी तीन महीने तक देने की व्यवस्था है।

दवा निर्यात पर इजराइल PM ने भारत का जताया आभार, जवाब में मोदी ने कहा- भारत हरसंभव मदद के लिए तैयार

इसके साथ ही उज्ज्वला योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को अगले तीन महीने तक गैस सिलेंडर निःशुल्क उपलब्ध कराया जाना है। उन्होंने कहा कि कोरोना संकट के इस समय में संकट के समय में केंद्र व यूपी सरकार पूरी मजबूती के साथ गरीबों के साथ खड़ी है। सीएम योगी ने कहा कि "हम कोरोना महामारी को हराने में तभी कामयाब होंगे, जब हम पीएम मोदी द्वारा बताए सभी निर्देशों का मिलकर पूरी तरह पालन करेंगे।"
उन्होंने कहा कि "बहुत आवश्यक हो तभी हम घर के बाहर निकलें अन्यथा घर में रहें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें, स्वच्छता के बारे में दी गई व्यवस्था का अनुपालन करें, घर के बाहर निकलें तो मास्क, गमछा या तौलिया लपेटकर ही बाहर निकलें।" योगी ने कहा कि "इन सबका पालन करेंगे तो कोरोना हम सबसे दूर रहेगा और हम लोग अपने समाज और देश को कोरोना महामारी से बचाने में सफल होंगे।"
Tags : ,government,CM Yogi,lockdown,committee,Kovid-19,commencement,Finance Minister,chairmanship,state,corona epidemic,UP