+

राजस्थान सियासी संग्राम को लेकर अजय माकन ने गजेंद्र सिंह शेखावत से की इस्तीफे की मांग

अजय माकन ने कहा, यदि चुनी गई किसी सरकार को पैसे की ताकत से हटाया जा जाता है, तो यह जनादेश के साथ धोखा और लोकतंत्र की हत्या है।
राजस्थान सियासी संग्राम को लेकर अजय माकन ने गजेंद्र सिंह शेखावत से की इस्तीफे की मांग
राजस्थान के सियासी संग्राम के बीच फोन टैपिंग के मामले को लेकर कांग्रेस ने एक बार फिर केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत से इस्तीफे की मांग की। जयपुर गए कांग्रेस नेता अजय माकन ने रविवार को प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर इस मामले में बीजेपी पर जोरदार हमला किया।
अजय माकन ने कहा, यदि चुनी गई किसी सरकार को पैसे की ताकत से हटाया जा जाता है, तो यह जनादेश के साथ धोखा और लोकतंत्र की हत्या है। अब जब गजेंद्र सिंह शेखावत का नाम एफआईआर में है और उनकी आवाज की पहचान ऑडिटो टेप में की गई है तो वह केंद्रीय मंत्री का पद क्यों संभाले हुए हैं? 
उन्होंने कहा कि या तो वह इस्तीफा दें या फिर उन्हें उनके पद से हटा दिया जाए ताकि वह जांच को प्रभावित न कर सकें। मैंने सुना कि वह (गजेंद्र सिंह शेखावत) कह रहे हैं कि ऑडिट में आवाज उसकी नहीं बल्कि एक और गजेंद्र सिंह की है। अगर ऐसा है, तो उन्हें अपनी आवाज का नमूना देना चाहिए और जांच पूरी होने तक केंद्रीय मंत्री के पद से हट जाना चाहिए।

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा- बगावत करने वाले जनप्रतिनिधियों के अगला चुनाव लड़ने पर रोक लगाई जाए

अजय माकन ने कहा कि अगर इस सब में बीजेपी की कोई भूमिका नहीं है तो केंद्र, हरियाणा सरकार, ईडी, आईटी विभाग बागी कांग्रेस विधायकों को सुरक्षा क्यों दे रहे हैं। बीजेपी की ओर से फोन टैपिंग की सीबीआई जांच की मांग पर माकन ने कहा, 'सीबीआई के जरिये पार्टी को धमकी देने का कोई मतलब नहीं था और यह स्पष्ट था कि ऐसा करने से बीजेपी अधूरे अंशों की रक्षा करने की कोशिश कर रही थी। 
मतलब मौजूदा झगड़े में कई और शक्तिशाली लोग शामिल हैं।' इससे पहले कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि बीजेपी ने राजस्थान राजनीतिक संकट के मामले में "क्लीन चिट" और "सच्चाई को नाकाम" करने के लिए फोन टैपिंग के मामले की सीबीआई से जांच की मांग की है।


facebook twitter