+

नीतीश सरकार के विकास के दावों को कांग्रेस ने किया खारिज, जनता इस बार चाहती है बदलाव

बिहार कांग्रेस के पूर्व उपाध्यक्ष प्रवीण कुशवाहा ने बिहार की जनता इस बार बदलाव चाहती है, कांग्रेस के नेतृत्व में इस बार जरूर बदलाव होगा।
नीतीश सरकार के विकास के दावों को कांग्रेस ने किया खारिज, जनता इस बार चाहती है बदलाव
बिहार विधानसभा चुनाव के लिए राजनीतिक दलों का प्रचार ज़ोरों पर है। प्रचार मंच से पक्ष-विपक्ष के बीच आरोपों के तीर छोड़े जा रहे हैं। जहां राज्य की मौजूदा सरकार अपने विकास कार्यों को लेकर दावे कर रही हैं, वहीं कांग्रेस इन दावों की पोल खोलती नजर आ रही है। कांग्रेस ने सड़कों में हुए सुधार के सरकार के दावे को सिरे से खारिज कर दिया है।
मंगलवार को बिहार कांग्रेस के पूर्व उपाध्यक्ष प्रवीण कुशवाहा ने बिहार की जनता इस बार बदलाव चाहती है, कांग्रेस के नेतृत्व में इस बार जरूर बदलाव होगा। संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस की प्राथमिकता बिहार को विकसित राज्य बनाने की है। उन्होंने कहा कि मंत्रियों के काफिले की बात छोड़ दी जाए तो राज्य की राजधानी में जाम की स्थिति यह है कि आम लोगों को एक जगह से दूसरे स्थान तक जाने में दो से चार घंटे लग जाते हैं। 
अखिल भारतीय कुशवाहा महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कुशवाहा ने कहा, "बिहार में अपराधियों का बोलबाला है। रोज व रोज व्यवसायियों की हत्या हो रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि सत्तापक्ष के द्वारा अपराधियों को संरक्षण दिया जाता है, जिस कारण व्यापारियों का पलायन देश के दूसरे राज्यों में हो रहा है।" 
उन्होंने कहा, "बिहार से पलायन एक बड़ी समस्या है। हमारी पहली प्राथमिकता बिहार को विकसित राज्य बनाने की है। बिहार के कोने-कोने से आवाज आ रही है- बोले बिहार, बदले सरकार।" पटना साहिब से कांग्रेस प्रत्याशी कुशवाहा ने कहा कि 15 साल से बिहार में जेडीयू-बीजेपी का शासन है। 15 साल से पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव इस इलाके से बीजेपी के विधायक हैं, लेकिन सड़क और ट्रैफिक की समस्या रोज व रोज बढ़ती गई। बिहार सरकार की उपेक्षा के कारण यहां के लोगों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। 
facebook twitter instagram