फरीदाबाद : 10 दिनों से लापता थी युवती, यमुना के किनारे हुआ शव बरामद

फरीदाबाद : यमुना किनारे एक युवती का शव गड़ा मिलने से हड़कंप मच गया। गौरतलब हो कि युवती नाबालिग थी और वह पिछले 10 दिनों से लापता थी। युवती की हत्या के बाद युवती के शव को यमुना नदी के किनारे स्थित गांव कबूलपुर खादर के कैप्टन फॉर्म हाउस क्षेत्र में दफना दिया गया था। 

मामले की जानकारी के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने युवती के शव को कब्र से बाहर निकला। इस दौरान इलाके के कांग्रेस विधायक ललित नागर भी मौजूद रहे। बताया जाता है कि पीड़िता 30 अगस्त से गायब थी। बहुत ढूंढने पर भी परिजन को जब वह नहीं मिली तब उन्होंने पुलिस में इसकी रिपोर्ट दर्ज कराई। परिजन का आरोप है कि पुलिस ने लड़की की खोजबीन में कोई मदद नहीं की। परिजन ने बताया, ‘‘उन्हें एक शख्स पर संदेह था। शख्स को पकड़कर जब परिजन ने उससे पूछताछ की तो उसने सारी बातें उगल दी। 

उसने ही बताया कि गायब हुई लड़की की हत्या हो चुकी है। हत्या उसने नहीं की है लेकिन वह लड़की को गाड़ी में बैठाकर जरूर ले गया था।’’ फिलहाल जिस युवक पर हत्या का आरोप है उसका सुराग अब तक नहीं लग पाया है। भारत कॉलोनी स्थित वीरवति वाटिका के गली नंबर दो में रहने वाले अजय सिंह ने बताया, ‘‘उसकी 16 वर्षीय नाबालिग बेटी निकितना 30 अगस्त को रहस्यमय परिस्थितियों में गायब हो गई थी, जिसकी शिकायत उन्होंने खेडीपुल पुलिस में दर्ज करवाई थी।’’ 

परिजनों ने आरोप लगाते हुए कहा कि शिकायत में उन्होंने आरोपी के नाम एवं अन्य विवरण दिये थे लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई की और मंगलवार को उन्हें सूचना मिली कि उनकी बेटी का शव कर्नल फार्म हाऊस से बरामद हुआ है। पीड़ित के पिता ने आरोप लगाया कि पुलिस की लचर कार्रवाई के चलते उनकी बेटी की मौत हुई, अगर पुलिस समय पर आरोपी के खिलाफ कार्रवाई करती तो उनकी बेटी बच सकती थी। हालांकि पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है, फिलहाल जांच जारी है। 

Tags : Chhattisgarh,Congress,Raipur,रमन सरकार,Raman Sarkar,Tribal Department,Pathargarh agitation ,Yamuna