अगस्त के बाद सीमापार से जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ के 84 प्रयास, 59 आतंकियों के घुसने की आशंका : जी किशन रेड्डी

04:13 PM Dec 10, 2019 | Pinki Nayak
सरकार ने मंगलवार को लोकसभा में बताया कि अगस्त में जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे संबंधी अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को समाप्त किए जाने के बाद नियंत्रण रेखा पर सीमा पार से घुसपैठ के 84 प्रयास किए गए और इनमें 59 आतंकवादियों के घुस आने की आशंका है। निचले सदन में श्रीधर कोटागिरी के प्रश्न के लिखित उत्तर में गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा, ‘‘वर्ष 1990 से एक दिसंबर 2019 तक सुरक्षा बलों द्वारा 22,557 आतंकवादियों को मार गिराया गया है।’’ 
उन्होंने बताया कि सुरक्षा बलों की प्रभावी चौकसी के कारण वर्ष 2005 से लेकर 31 अक्तूबर 2019 तक सीमापार से घुसपैठ के प्रयासों के दौरान 1011 आतंकवादी मारे गए और 42 आतंकवादियों को गिरफ्तार कर लिया गया। इस दौरान 2253 आतंकवादियों को वापस भगाया गया। गृह राज्य मंत्री ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर आतंकवादियों द्वारा किए जाने वाले घुसपैठ के सीमापार से नियमित प्रयास प्रायोजित और समर्थित हैं। 

SC/ST का आरक्षण बना रहेगा, एंग्लो-इंडियन के आरक्षण के लिए दरवाजे बंद नहीं हुए : रविशंकर प्रसाद

अगस्त 2019 के बाद से नियंत्रण रेखा पर सीमा पार से घुसपैठ के 84 प्रयास किए गए और इनमें 59 आतंकवादियों के घुस आने की आशंका है। उन्होंने कहा कि घुसपैठ के प्रयास जम्मू कश्मीर में हिंसा पैदा करने और मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने तथा घाटी में घटते आतंकवाद को बढ़ाने हेतु एक छद्म युद्ध के एजेंडे का हिस्सा है। 

Related Stories: