+

लोहड़ी, पतंग उत्सव और माघी का मेला हुआ बेरौनक

पंजाब के समस्त इलाकों की तरह आज लुधियाना और जालंधर में भी जमकर तेज बारिश हुई। बारिश से कुछ वक्त पहले पूरे पंजाब में आसमान के ऊपर काली घटा छा गई।
लोहड़ी, पतंग उत्सव और माघी का मेला हुआ बेरौनक
लुधियाना-जालंधर : पंजाब के समस्त इलाकों की तरह आज लुधियाना और जालंधर में भी जमकर तेज बारिश हुई।  बारिश से कुछ वक्त पहले पूरे पंजाब में आसमान के ऊपर काली घटा छा गई। 

जिस कारण दिन के उजाले में अंधेरा हो गया। उधर आज हुई तेज बारिश ने लोहड़ी और माघी उत्सव के मजे को भी किरकिरा किया है और लोगों के चेहरों पर मायूसी देखी गई। आज पंजाब के कई इलाकों में लोहड़ी उत्सव के दौरान ढोल धमाकों और कई इलाकों में पतंगबाजी व बो-काटा, आई बो की आवाजें गूंजनी थी, उसका मजा बारिश के कारण फीका रहा। नौजवानों और विशेषकर बच्चों में जायदा मायूसी देखी गई। 

हालांकि पहले से ही घोषित मौसम विभाग की भविष्यवाणी सच साबित हुई। लोहड़ी पर्व की सुबह जालंधर, फिरोजपुर सहित पंजाब के अधिकतर जिलों में मौसम खराब हो गया है। 

जालंधर, अमृतसर, फरीदकोट, लुधियाना, अबोहर व चालीस मुक्तों की पावन धरती श्री मुक्तसर साहिब में भी सुबह से ही आसमान में घने काले बादल छाए गए। दिन में ही रात का अहसास हुआ।  सडक़ों पर वाहन चालकों को लाइटें ऑन करके चलना पड़ा।  तेज ठंडी हवाओं और गरज के साथ तेज बारिश शुरू हुई। पारा लुढक़ने और ठिठुरन बढऩे से लोग घरों के अंदर रजाईयों में दुबके रहें। होशियारपुर में अधिकतम तापमान 14 डिग्री सेल्सियम और न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है।

- रीना अरोड़ा
facebook twitter