+

भारत-US ने संयुक्त बयान में कहा-PAK को आतंकवादी संगठनों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई करने की जरूरत

भारत और अमेरिका ने संयुक्त बयान जारी कर कहा कि पाकिस्तान को आतंकवादी संगठनों के खिलाफ तत्काल, सतत और अपरिवर्तनीय कार्रवाई करने की आवश्यकता है।
भारत-US ने संयुक्त बयान में कहा-PAK को आतंकवादी संगठनों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई करने की जरूरत
पाकिस्तान को कई बार आतंकवाद को लेकर चेतावनी दी जा चुकी है। बावजूद इसके पाकिस्तान की ओर से भारतीय सीमा पर होने वाली आतंकवादी गतिविधियां रुकने का नाम नहीं ले रहीं। गुरुवार को भारत और अमेरिका ने संयुक्त बयान जारी कर कहा कि पाकिस्तान को आतंकवादी संगठनों के खिलाफ तत्काल, सतत और अपरिवर्तनीय कार्रवाई करने की आवश्यकता है।
भारत और अमेरिका ने इस्लामाबाद से मुंबई हमले और पठानकोट वायुसेना एयरपोर्ट पर हुए हमले सहित अन्य आतंकवादी हमलों के दोषियों के खिलाफ त्वरित कानूनी कार्रवाई की भी मांग की। ‘भारत अमेरिका आतंकवाद निरोधी संयुक्त कार्य समूह’ की 17वीं बैठक और ‘इंडिया-यूएस डेजिग्नेशन डायलॉग’ के तीसरे सत्र के बाद जारी एक संयुक्त बयान में दोनों देशों ने आतंकवाद के परोक्ष इस्तेमाल और सीमा-पार आतंकवाद की निंदा की। 
यह सत्र नौ-10 सितम्बर को ऑनलाइन आयोजित किया गया था। विदेश मंत्रालय में ‘काउंटर टेररिज्म’ (आतंकवाद निरोध) के संयुक्त सचिव महावीर सिंघवी ने भारतीय प्रतिनिधिमंडल और अमेरिका विदेश मंत्रालय में ‘काउंटर टेररिज्म’ के समन्वयक नैथन सेल्स ने अमेरिकी पक्ष का प्रतिनिधित्व किया। 
बयान में कहा गया, ‘‘ दोनों पक्षों ने पाकिस्तान से आतंकवादी संगठनों के खिलाफ तत्काल, सतत और अपरिवर्तनीय कार्रवाई करने की आवश्यकता को रेखांकित किया, ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि उसके नियंत्रण वाले किसी भी क्षेत्र का इस्तेमाल आतंकवादी गतिविधियों के लिए नहीं हो। 
साथ ही 26/11 मुम्बई हमले और पठानकोट वायुसेना एयरपोर्ट पर हुए हमले जैसे आतंकवादी हमलों के दोषियों के खिलाफ त्वरित कानूनी कार्रवाई की मांग भी की।’’ अमेरिकी पक्ष ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में भारत के लोगों और उसकी सरकार के प्रति समर्थन की बात दोहराई। 
facebook twitter