+

जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद हुए प्रदर्शनों को लेकर बोले ट्रम्प-नायकों को ‘बदनाम’ करना चाहते हैं प्रदर्शनकारी

जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद हुए प्रदर्शनों को लेकर बोले ट्रम्प-नायकों को ‘बदनाम’ करना चाहते हैं प्रदर्शनकारी
अफ्रीकी-अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस हिरासत में मौत के बाद हुए प्रदर्शनों के मद्देनजर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने देश के स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर माउंट रशमोर में लोगों की भीड़ को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदर्शनकारियों ने ‘‘हमारे इतिहास को मिटाने के लिए एक निष्ठुर मुहिम’’ चलाई। इस भीड़ में अधिकतर लोगों ने मास्क नहीं पहन रखा था। नस्ली अन्याय और पुलिस बर्बरता के खिलाफ अमेरिका में कई सप्ताह तक प्रदर्शन हुए। कुछ प्रदर्शनकारियों ने उन कनफेडरेट स्मारकों और प्रतिमाओं को नष्ट किया या क्षति पहुंचाई, जिनमें उन लोगों को सम्मान दिया गया है जो दास प्रथा को बढ़ावा देने से जुड़े थे। ट्रम्प ने कहा, ‘‘यह मुहिम माउंट रशमोर में हर व्यक्ति की विरासत पर हमला कर रही है।’’ 

मुंबई में भारी बारिश का अनुमान, मौसम विभाग ने जारी किया रेड अलर्ट


उन्होंने कहा कि कुछ लोगों ने ‘‘हमारे नायकों को बदनाम करने और हमारे मूल्यों को मिटाने’’ की कोशिश की। कोविड-19 वैश्विक महामारी से निपटने और प्रदर्शनों को लेकर प्रतिक्रिया के कारण आलोचना झेल रहे ट्रम्प अपनी पत्नी एवं प्रथम महिला मेलानिया ट्रम्प के साथ जब मंच पर पहुंचे, तो उनके समर्थकों ने ‘‘चार और साल’’ के नारे लगाए। ट्रम्प ने कहा, ‘‘हमारी विरासत मिटाने की कोशिश करने वाले लोग चाहते हैं कि अमेरिका अपने गौरव और अपनी महान गरिमा को भूल जाए।’’ 

facebook twitter