+

राजस्थान: प्रदेश कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष डोटासरा का दावा, बोले- सरकार पूरे पांच साल चलेगी, भाजपा का षडयंत्र सफल नहीं होगा

सचिन पायलट खेमे के विधायकों के वापस पार्टी में लौटने के सवाल पर डोटासरा ने कहा कि कांग्रेस के चुनाव चिह्न पर जीता हुआ प्रत्येक वह विधायक चाहे वह पायलट हो चाहे कोई दूसरा हो,उन तमाम लोगों को कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के खून और पसीने के कारण से ये पद मिले हैं वे जीते हैं तो मैं समझता हूं कि उनको आकर कार्यकर्ताओं के भावनाओं का सम्मान करना चाहिए
राजस्थान: प्रदेश कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष डोटासरा का दावा, बोले- सरकार पूरे पांच साल चलेगी, भाजपा का षडयंत्र सफल नहीं होगा
राजस्थान में एक महीने से सियासी संग्राम जारी है। राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने रविवार को कहा कि राजस्थान में सरकार पूरे पांच साल चलेगी, इसमें कोई दिक्कत वाली बात नहीं है। ये (भाजपा) केवल षडयंत्र रच रहे है, लेकिन ये राजस्थान में सफल नहीं होंगे। जैसलमेर में संवाददाताओं से बातचीत में डोटासरा ने कहा, ‘‘हर कार्यकर्ता का जो मन है..उसकी भावना है कि पांच साल सरकार चले और सौ प्रतिशत सरकार चलेगी, कहीं उसमें कोई दिक्कत वाली बात नहीं है। ये केवल षडयंत्र रच रहे हैं..लेकिन ये राजस्थान में सफल नहीं होंगे।’’

केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह द्वारा नेताओं के फोन टैप करने आरोपो के सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा,‘‘वह (गजेन्द्र सिंह) अगर टेप की बात स्वीकार करतें है तो उनको यह भी स्वीकार करनी चाहिए कि उनका ऑडियो टेप जो टैप हुआ है, उसके बारे में पहले अपने बयान दें, वो बयान तो दे नहीं रहे है ओर दूसरों पर आरोप लगा रहे हैं। उनके पास है ऐसा कोई सबूत... कोई टेप नहीं है सब स्वतंत्र है।’’

उन्होंने कहा कि प्रत्येक चुना हुआ जनप्रतिनिधि जो हमें समर्थन दे रहा है चाहे वो निर्दलीय हो, चाहे बीटीपी हो चाहे कांग्रेस के लोग हो वो अपनी पूरी स्वतंत्रता के साथ रह रहे हैं और इसलिये रह रहे हैं कि राजस्थान की सरकार को पांच साल के लिये जनाधार दिया गया है। पांच साल यह सरकार चलेगी। षडयंत्र और धनबल के आधार पर इस सरकार को नहीं गिरा सकते। 

सचिन पायलट खेमे के विधायकों के वापस पार्टी में लौटने के सवाल पर डोटासरा ने कहा कि कांग्रेस के चुनाव चिह्न पर जीता हुआ प्रत्येक वह विधायक चाहे वह पायलट हो चाहे कोई दूसरा हो,उन तमाम लोगों को कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के खून और पसीने के कारण से ये पद मिले हैं वे जीते हैं तो मैं समझता हूं कि उनको आकर कार्यकर्ताओं के भावनाओं का सम्मान करना चाहिए और भाजपा जो षडयंत्र कर रही है उसमें किसी को नहीं फसंना चाहिए और वापस आकर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं और नेताओं का सम्मान रखना चाहिए।

उन्होंने भाजपा विधायकों के बाड़ाबंदी के सवाल का जवाब देते हुए कहा कि भाजपा में जो चुने हुए लोग है उनमें भी स्वाभिमानी लोग है जो यह कह रहे है कि इतने बडे़ प्रजातांत्रिक रूप से चुनी हुई सरकार इतने बडे़ बहुमत वाली सरकार को क्यों गिराना चाहते हो तो अगर किसी ने अपने स्वाभिमान की कोई बात की होगी तो उनको कैद कर लिया और वो भी गुजरात में ले जाकर चुनाव जीतते हैं राजस्थान के लोगो के वोट से और उनको ले जाया जाता है कर्नाटक,गुजरात और हरियाणा तो मैं समझता हूं इससे बड़ा कोई दुर्भाग्य लोकतंत्र के लिये हो नहीं सकता कि केन्द्र में राजग की जो सरकार है वह चुनी हुई सरकारों को गिराने में इतना समय व्यर्थ कर रही है।

facebook twitter