शरद पवार ने डीपी त्रिपाठी के निधन पर जताया शोक, इसे निजी क्षति बताया

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) प्रमुख शरद पवार और अन्य पार्टी नेताओं ने बृहस्पतिवार को अपने वरिष्ठ सहयोगी एवं राज्यसभा के पूर्व सदस्य डी पी त्रिपाठी के निधन पर शोक व्यक्त किया। बता दें कि त्रिपाठी (67) का लंबी बीमारी के बाद बृहस्पतिवार को दिल्ली में निधन हो गया। शरद पवार ने कहा कि त्रिपाठी राकांपा के साथ उसकी शुरुआत से ही थे और उनका निधन उनके लिए निजी क्षति है। 
शरद पवार ने ट्वीट किया, ''हमारे राकांपा महासचिव श्री डीपी त्रिपाठी जी के निधन के बारे में जानकर दुख हुआ। वह राजनीति में परिश्रम और बुद्धिमत्ता का सही मिश्रण थे। एक दृढ़ आवाज जिन्होंने मेरी पार्टी के लिए एक प्रवक्ता और महासचिव के तौर पर हमेशा एक रुख अपनाया।" 
उन्होंने कहा कि त्रिपाठी पार्टी की 1999 में स्थापना के बाद से ही इसके साथ थे। शरद पवार ने कहा कि त्रिपाठी ने राष्ट्रीय स्तर पर बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभायी। राकांपा प्रमुख ने कहा, "उनका निधन मेरे लिए एक निजी क्षति है। उनकी आत्मा को शांति मिले।"
महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजित पवार ने ट्वीट करके त्रिपाठी के निधन पर शोक व्यक्त किया। उन्होंने कहा, "श्री डी पी त्रिपाठी के दुखद निधन पर गहरा शोक व्यक्त करता हूं, वह राकांपा के सम्मानित वरिष्ठ नेता और राकांपा के महासचिव थे। उनके परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं। उनकी आत्मा को शांति मिले।"
राकांपा के राज्यसभा सदस्य प्रफुल्ल पटेल ने भी त्रिपाठी के निधन पर शोक व्यक्त किया और कहा कि उन्हें कभी भी भुलाया नहीं जा सकेगा। राकांपा की लोकसभा सदस्य सुप्रिया सुले ने त्रिपाठी को राकांपा के सभी कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शक बताया। सुले ने ट्वीट किया, "श्री डी. पी. त्रिपाठी के निधन के बारे में जानकर दुख हुआ। वह राकांपा के महासचिव और हम सभी के मार्गदर्शक थे। हमें उनके बहुमूल्य परामर्श और मार्गदर्शन की कमी महसूस होगी जो उन्होंने राकांपा की स्थापना के पहले दिन से हमें दिया।" 
महाराष्ट्र के मंत्री छगन भुजबल ने कहा कि त्रिपाठी के निधन से "एक ऐसा खालीपन उत्पन्न हो गया है, जिसे भरा नहीं जा सकता।’’ भुजबल ने ट्वीट किया, ‘‘राकांपा ने अपने वरिष्ठ मार्गदर्शक को हमेशा के लिए खो दिया।" राकांपा के मुख्य प्रवक्ता एवं महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने भी त्रिपाठी के निधन पर शोक व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि राज्यसभा के पूर्व सदस्य ने पार्टी का आधार बढ़ाने में बहुमूल्य योगदान दिया। राकांपा महासचिव एवं छात्र संघ के पूर्व नेता कैंसर से पीड़ित थे। 

Tags : Badrinath,चारधाम यात्रा,बद्रीनाथ,हिमपात,Snow,भीषण ठंड,Kedarnath Dham,केदारनाथ धाम,Chardham Yatra,Gruzing cold ,DP Tripathi,Sharad Pawar,death,party leaders,aide,NCP,Rajya Sabha,demise