+

कोरोना के बढ़ते प्रकोप को सरकार के साथ-साथ लोगों को भी गंभीरता से लेने की जरूरत : मायावती

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने चुनावी रैलियों और रोड शो में कोविड-19 संबंधी नियमों के उल्लंघन पर दुख और चिंता प्रकट करते हुए इस पर ध्‍यान देने की अपील की।
कोरोना के बढ़ते प्रकोप को सरकार के साथ-साथ लोगों को भी गंभीरता से लेने की जरूरत : मायावती
बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने चुनावी रैलियों और रोड शो में कोविड-19 संबंधी नियमों के उल्लंघन पर दुख और चिंता प्रकट करते हुए इस पर ध्‍यान देने की अपील की। 
बसपा प्रमुख मायावती ने बुधवार को एक ट्वीट कर यह अपील की। उन्होंने ट्वीट में कहा, ''देश में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को केन्द्र व राज्य सरकारों के साथ-साथ लोगों को भी इसे अति-गंभीरता से लेने की जरूरत है, किन्तु खासकर चुनावी रैली व रोड शो आदि में कोरोना नियमों के घोर उल्लंघन के प्रति निष्क्रियता अति-दुःखद व चिंताजनक है।'' उन्होंने सावधान करते हुए कहा कि इस पर उचित ध्यान देने की जरूरत है।
बता दें कि देश में पिछले 24 घंटे में सामने आए कोरोना वायरस के मामलों ने अब तक के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए। नए आंकड़ों के मुताबिक, देश में एक दिन के अंदर 1.15 लाख से ज्यादा मामले दर्ज हुए हैं। बुधवार सुबह केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1,15,736 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,28,01,785 पहुंच गई हैं। वहीं, 630 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 1,66,177 हो गई है।

facebook twitter instagram